Please use this identifier to cite or link to this item: http://nopr.niscair.res.in/handle/123456789/11268
Title: सर्प दंश : सिरिंज विधि से प्राथमिक उपचार
Authors: विजयवर्गीय, दिनेश
Issue Date: Oct-2010
Publisher: निस्केयर- सी एस आई आर, भारत
Abstract: वर्षा ऋतु में लगने वाली रिमझिम जहां धरती को हरा-भरा कर शीतलता प्रदान करती है वहीं पहाड़ों पर कल-कल बहते झरने और लबालब बहने वाले नदी-नाले हमारे मन को मस्त-मस्त कर जाते हैं। गांव-गांव में खुशहाली का संदेश दे जाने वाली वर्षा का लोग दिल से स्वागत करते हैं। ऐसे में हमारे किसान भी खेतों में हरी-भरी फसल की आशा में पूरे समर्पित भाव से जुड़े रहते हैं।
Description: 51
URI: http://hdl.handle.net/123456789/11268
ISSN: 0042-6075
Appears in Collections:VP Vol.59(10) [October 2010]

Files in This Item:
File Description SizeFormat 
VP 59(10) 51.pdf153.4 kBAdobe PDFView/Open    Request a copy


Items in NOPR are protected by copyright, with all rights reserved, unless otherwise indicated.